Ad




polity practice set
polity practice set
polity practice set

यदि हम भारत राजनीति विज्ञान ( polity ) के बात करें तो हमें भारत में रहने वाले लोगों की सभ्यता और अनेकता में एकता की भावना दिखाई पड़ती है, आज हम polity practice  के लिए polity practice set को सॉल्व करेंगे जिससे हमें polity की practice करने में सहायता मिलेगा।

polity practice set के साथ ही साथ हमको इसमें indian politiy  , भारतीय सँविधान भी सामिल रहेगा। 


संविधान की बात करे या राजनीति विज्ञान इन सभी के प्रश्न हमको IAS , PCS , SSC , BANK , RAILWAY आदि एग्जाम में देखने को मिलता है।

polity practice set हिंदी में होगा जिससे कि हिंदी माध्यम के छात्रों को पढ़ने और polity के practice करने में आसानी हो।

polity practice set hindi में

 1- धन विधेयक के संबंध में, निम्नलिखित में से कौन सा कथन सही नहीं है।

a)बिल ( विधेयक ) को धन विधेयक तब माना जाएगा जब इसमें किसी कर के अधिरोपण , उन्मूलन , माफी , परिवर्तन या विनियमन से संबंधित प्रावधान हो।
b)धन विधेयक में भारत की संचित निधि एवं भारत की आकस्मिकता निधि की अभिरक्षा से संबंधित उपबंध हो होते हैं।
c)धन विधेयक भारत की आकस्मिकता निधि से धन के विनियोजन से संबंधित होता है।

d)धन विधेयक भारत सरकार द्वारा धन के उधार लेने या कोई प्रतिभूति देने की विनियमन से संबंधित होता है।




Ans- (C)
  धन विधेयक भारत की आकस्मिकता निधि से धन के विनियोजन से संबंधित होता है।




2 - निम्नलिखित में से किसको " विधि का शासन " के प्रमुख लक्षणों के रूप में माना जाएगा ?

1)शक्तियों का परिसीमन
2)विधि के समक्ष समता
3)सरकार के प्रति जन-उत्तरदायित्व
4)स्वतंत्रता और नागरिक अधिकार


नीचे दिए गए कूटों का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिए:


a)केवल 1 और 2
b)केवल 2 और 3
c)केवल 1 , 2 और 4
d)1 , 2 , 3 और 4





Ans- (C)

3 - यदि भारत का राष्ट्रपति संविधान के अनुच्छेद 356 के अधीन यथा उपबंधित अपनी शक्तियों का किसी विशेष राज्य से संबंध में प्रयोग करें तो-

1)वह राज्य की विधानसभा स्वत: ही भंग हो जाती है।
2)उस राज्य के विधान मंडल की शक्तियां संसद द्वारा या उसके प्राधिकार के अधीन प्रयोज्य होगी।
3)उस राज्य में अनुच्छेद 19 निलंबित हो जाती है।
4)राष्ट्रपति उस राज्य से संबंधित विधियां बना सकता हैं।

 उपर्युक्त प्रश्न में कौन-सा कथन सत्य है?


👌d) केवल 2


































Post a Comment

Previous Post Next Post