Ad

www.wifistudy.xyz
  • पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन 2020 का आयोजन वियतनाम में होगा।
  •  इस सम्मेलन में सामुद्रिक सहायता के लिए कॉन्फ्रेंस चेन्नई में आयोजित किया जाएगा।
  •  यदि हम पूर्वी एशिया शिखर सम्मेलन 2020 को देखें तो इसमें कुल 18 देश भाग लेते हैं जिसको हम दूसरे शब्दों में आसियान (ASEAN) + 8  कहते हैं।
  • पूर्वी शिखर सम्मेलन का आयोजन ऑस्ट्रेलिया और इंडोनेशिया  संयोजित करेंगे।
    www.wifistudy.xyz

  •  यदि हम आसियान के बारे में जाने तो आसियान की स्थापना 8 अगस्त 1967 को  बैंकॉक में हुआ था।
  •  परंतु इसका पहला बैठक 1976 में हुआ था। तथा अभी तक इसका 35 बैठक हो चुका है जो की अंतिम बैठक बैंकॉक में हुआ था।
  • इसमें कुल सदस्यों का संख्या 10 है।
  •   आसियान (ASEAN) +8    देशों को मिलाकर इसमें कुल अट्ठारह देश शामिल है। जिसमें 8   देशों में चीन, जापान, साउथ कोरिया ,भारत ,ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड , अमेरिका  तथा रूस है।
आसियान क्या है ?
आशियान का फुल फॉर्म "असोसिएशन ऑफ साउथ ईस्ट एशियन नेशंस " हैं।
  • 8 अगस्त 1967 को बैंकॉक ,थाईलैंड में आसियान घोषणा या बैंकॉक घोषणा से आसियान की स्थापना हुई थी।  आशियाने राजनीतिक एवं आर्थिक संगठन है, इसका मुख्यालय इंडोनेशिया के जकार्ता में हैं। 
  • आसियान के संस्थापक सदस्यों इंडोनेशिया, मलेशिया, फिलीपींस सिंगापुर और थाईलैंड हैं ।
  • वर्तमान में आसियान के 10 सदस्य देश हैं। कंबोडिया ,इंडोनेशिया, लाओस, मलेशिया, म्यामार  , फिलीपींस ,सिंगापुर, थाईलैंड और वियतनाम कंबोडिया 1999 में आसियान का दसवां सबसे बना।
  •  आसियान का उद्देश्यों की बात करें तो क्षेत्रीय स्तर पर आर्थिक सामाजिक तथा सांस्कृतिक विकास एवं क्षति शांति तथा स्थिरता को बढ़ावा देना इसका  मकसद है।
  • आधारभूत सिद्धान्तों को देखें तो आसियान का आदर्शवाद के एक दृष्टि एक पहचान एक समुदाय हैं।
  •  सभी देशों की राष्ट्रीय पहचान संप्रभुता समानता स्वतंत्रता क्षेत्रीय अखंडता के लिए आपसी सम्मान को बढ़ावा देना एक दूसरे के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप नहीं करना , शांतिपूर्ण तरीके से मतभेद दिया विवादों का निपटान करना।
  •  प्रभावी आपसी सहयोग , धमकी या बल प्रयोग का त्याग करना क्षेत्रीय स्थिरता की सुरक्षा इत्यादि आसियान के आधारभूत सिद्धांत है ।
  • 2003 के 9 वें आसियान सम्मेलन में आसियान से समुदाय की स्थापना का निर्णय लिया गया।

 फेसबुक घोषणा के अनुसार समुदाय की स्थापना 2015 तक करनी थी ।
  •  आसियान समुदाय के तीन भाग है।

  1.  आसियान आर्थिक समुदाय
  2. आसियान राजनीतिक सुरक्षा समुदाय
  3. आसियान सामाजिक सांस्कृतिक समुदाय ।

 आसियान + 3 देश
   आपसी मुद्दों से निपटना तथा ऊर्जा सुरक्षा प्राकृतिक गैस ,तेल बाजार का  अध्ययन, तेज संग्रहण एवं नवीकरणीय ऊर्जा में सहयोग के लिए आसियान में शामिल दस देशों के अलावा तीन और देश शामिल हैं । चीन,  जापान और दक्षिण कोरिया।

 आसियान  + 6 देश 
पूर्वी एशियाई देशों में आर्थिक वृद्धि में तेजी लाने के लिए आसियान के  देशों के अलावा छोड़ दी जिसमें शामिल किए गए हैं।
 चीन,  जापान , दक्षिण कोरिया, ऑस्ट्रेलिया न्यूजीलैंड और भारत इसमें शामिल है।

आसियान के सम्मेलन
   आसियान के सम्मेलनों की बात करें तो पहला आसियान सम्मेलन 1976 इंडोनेशिया के बाली में हुआ था। और हाल ही में 33 व आसियान सम्मेलन 2018 में सिंगापुर सम्पन हुआ ।

भारत और आसियान के बीच रिश्ते 
  • भारत और आसियान के बीच रिश्तों की बात करें तो आसियान भारत का चौथा सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार है।
  • भारत और आसियान के बीच  मुक्त व्यापार समझौता है।
  • भारत और आसियान के बीच आगे दी जा रहे विषयों का सहयोग है जिसने पहला है कृषि, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी , अंतरिक्ष,  पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन , मानव संसाधन विकास, क्षमता निर्माण, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जाय और पर्यटन इसके मुख्य केंद्र बिंदु हैं।

अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें click here



Post a Comment

Previous Post Next Post